ludokhelocom

Rediff.com»चलचित्र» 'क्या आप नहीं देख सकते थे कि केके दर्द में थे?'

'क्या आप नहीं देख सकते थे कि केके दर्द में थे?'

द्वारासुभाष के झा
जून 02, 2022 11:06 IST
रेडिफ समाचार प्राप्त करेंआपके इनबॉक्स में:

'उनकी आवाज में वीरता का गुण था।'

फोटोः केके/इंस्टाग्राम के सौजन्य से

संगीत संगीतकार राजेश रोशन, जिनके साथ केके ने फिल्म में सहयोग कियाकाइट्सगायक के निधन से बेहद दुखी हूं।

"यह केवल इसलिए नहीं है क्योंकि वह इतने अद्भुत गायक थे, इतने जीवंत और युवाओं के साथ इतने जुड़े हुए थे। लेकिन उनकी मृत्यु इतनी अनावश्यक थी। प्रसारित किए जा रहे वीडियो में कोई भी देख सकता है कि वह थेमंच पर बहुत असहज . उनके चेहरे में दर्द है। मैं दो बार दिल के दौरे से गुजर चुका हूं, और मैं उस लुक को जानता हूं," राजेश रोशन बताते हैंसुभाष के झा.

"अरे भाईक्या आप नहीं देख सकते थे कि केके दर्द में थे?"

राजेश रोशन को लगता है कि केके की जान बचाई जा सकती थी।

"जब मुझे दिल का दौरा पड़ा, तो डॉक्टर ने मुझे एक तनाव परीक्षण करने के लिए कहा। मैंने बिल्कुल मना कर दिया। अगर मैं उस ट्रेडमिल पर चढ़ जाता, तो मुझे पता होता कि मैं नहीं बचता। केके जीवित रहते अगर उन्हें तत्काल चिकित्सा दी जाती ध्यान।"

 

राजेश रोशन एक पखवाड़े पहले केके से जुड़े थे।

"मैं उनके साथ एक गैर-फिल्मी गाना करना चाहता था। मैं उनसे बात नहीं कर सकता था, लेकिन मैंने टीम के किसी ऐसे व्यक्ति से बात की जिसने मुझे सुनिश्चित किया कि केके मेरे साथ काम करके खुश होंगे। मुझे पता चला कि केके ने बनाया था। उसका घर उत्तर पूर्व में है और उसने अपने परिवार के साथ वहां शिफ्ट होने की योजना बनाई है।"

राजेश केके को एक अनुशासित और समर्पित गायक के रूप में याद करते हैं।

"उनके पास महान लोगों में से एक बनने की क्षमता थी। उनके पास एक चौंका देने वाला दायरा था, और उनके पास हिंदी फिल्म नायक की आवाज थी। उनकी आवाज में वीरता थी। लेकिन वह धक्का-मुक्की नहीं थे। उन्होंने खुद को बढ़ावा नहीं दिया। ।"

"वह मुझसे भी बड़ा वैरागी था। उसने अपने सभी गैर-कामकाजी घंटे अपने परिवार के साथ घर पर बिताए। मेरा मानना ​​​​है कि उसे अभी लंबा रास्ता तय करना है। उसकी मृत्यु इतनी अनावश्यक है। यहाँ बहुत सारे प्रश्न हैं जो होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। उत्तर दिया।"

रेडिफ समाचार प्राप्त करेंआपके इनबॉक्स में:
सुभाष के झा
मैं